ElectionJalandharPunjab

*चुनाव प्रचार बंद होने से पहले निकली “आप” कैंडीडेट की हवा, प्रचार बंद कर घरों में दुबके*

*वेस्ट हलके के विधायक सुशील रिंकू ने चुनाव प्रचार में झोंकी ताकत, लोगों का मिल रहा भारी समर्थन व प्यार*
जालंधर (अमरजीत सिंह लवला)
विधानसभा चुनाव अपने आखिरी पड़ाव पर है। चुनाव प्रचार के आखिरी दिन यहां सभी राजनीतिक पार्टियां अपने वोटरों तक पहुंचने के लिए जोर लगा रही हैं, वहीं विधानसभा हलका जालंधर वेस्ट में आम आदमी पार्टी की हवा निकल चुकी है। आज शाम पांच बजे प्रचार बंद हो जाएगा। पर आप ने शाम से पहले ही प्रचार बंद कर दिया है। लोगों की तरफ से उनको स्वीकारा नहीं जा रहा है। जिसके चलते उनकी रैलियों में भीड़ नहीं जुट पा रही है। वह लोग अब अपनी साख बचाने के लिए घर पर ही बैठ गए हैं।
वहीं दूसरी तरफ वेस्ट हलके के विधायक व कांग्रेस प्रत्याशी सुशील कुमार रिंकू का चुनाव प्रचार पूरे यौवन पर है। वह लगातार सुबह से ही डोर-टू-डोर कैंपेन और रैलियां कर रहे हैं। उनकी नुक्कड़ सभाएं भी चल रही हैं। वह अपने वोटरों तक पहुंचने में कोई कमी नहीं रखना चाहते हैं। लोगों को उन्हें भारी समर्थन और प्यार भी मिल रहा है। बता दें कि सुशील कुमार रिंकू के हक में प्रचार करने न केवल सीएम चरनजीत सिंह चन्नी आ चुके हैं, बल्कि बिहार  की सांसद व स्टार प्रचार रंजीत रंजन के अलावा हार्दिक पटेल और कन्हैया कुमार भी उनके लिए लगातार वोट मांग रहे हैं। रिंकू के हक में लोगों का हूजुम जुट रहा है। उनकी नुक्कड़ मीटिंगें रैलियों का रूप ले रही है और रैलियां रैलों में तबदील हो रही हैं। लोगों का उत्साह बता रहा है कि किस तरह लोग रिंकू को दोबारा विधायक बनाने के लिए ललायीत हैं।
वेस्ट हलके के उम्मीदवार की खराब और गुंडा छवि के चलते लोग उन्हें पंसद नहीं कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि आप ने अच्छा कैंडीडेट नहीं दिया है। शराब तस्करी और शराब बनाने के मामले में आप कैंडीडेट पर कई पर्चे दर्ज हैं। ऐसे लोगों का वह साथ नहीं देंगे। इसलिए आम आदमी पार्टी  के वकर्र और कैंडीडेट दोनों ही घरों में बैठ गए हैं। उनके चुनाव प्रचार की हवा निकल चुकी है। वह भीड ही नहीं जुटा पा रहे हैं। इसका फायदा सीधे तौर पर सुशील रिंकू को मिलता नजर आ रहा है। रिंकू के मुकाबले में कोई भी नहीं खड़ा दिख रहा है। बीते दिनों शिक्षा इंफोसिस एजेंसी की तरफ से कराए गए सर्वे में सुशील रिंकू को 72 फीसदी लोगों ने अपना नेता माना है। जिससे यह क्लीयर है कि जीतेगा तो रिंकू है। क्योंकि वेस्ट बदल रहा है। वेस्ट में विकास कामों की छड़ी लगा दी गई थी। अभी बहुत काम होने बाकी हैं।

Sidhi Galbaat
Sidhi Galbaat
Sidhi Galbaat
Sidhi Galbaat

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!