JalandharPunjabTravel Agent

पंजाब पुलिस जालंधर टीम की और से ट्रेवल एजेंट्स पर संगीन धाराओं में 12 लोगों के खिलाफ 9 एफआईआर दर्ज की, ट्रेवल एजेंटों में मचा हड़कंप..जाने कौन है एजेंट्स ?

ट्रेवल एजेंट्स पर संगीन धाराओं में 12 लोगों के खिलाफ 9 एफआईआर दर्ज
जालंधर (ग्लोबल आजतक ब्यूरो)
पंजाब पुलिस की जालंधर टीम ने पिछले कुछ गिने चुने दिनों में कुल 12 लोगो के खिलाफ कुछ मिलती जुलती धाराओं में मामले दर्ज किए है कुल 9 एफआईआर दर्ज की गई हैं यह 12 लोगों को विदेश भेजने का काम करते हैं, आम भाषा में कहा जाए तो यह लोग ट्रेवल प्रोफेशनल्स है या ट्रेवल एजेंट हैं, इनमे से ज्यादा तर लोग पहले से ही किसी न किसी मामले में जेल में बंद है, इन मामलो में भी ज्यादा तर मामले विदेश भेजने के नाम पर आम जनता से मोटे पैसों की ठगी करने से जुड़े मामले ही हैं, खबर लिखे जाने तक जो लोग पहले से ही जेल में नहीं हैं उनमे से किसी को भी जालंधर पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है।

एफआईआर–0115, दिनांक, 23/09/2022, थाना नवी बारादरी, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।

यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर : 752-डीसीपी, दिनांक, 22/03/2022 के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता जनमिन्दर सिंह पुत्र कमलजीत सिंह ने इंटरनेशनल वीसा एजुकेशन्स सर्विसेज(इव्स), फर्स्ट फ्लोर, 193 संजय गाँधी मार्किट, नजदीक बीएमसी चौक, जालंधर के दोनों मालिकों विनीत बेरी और मोना शर्मा द्वारा शिकायतकर्ता को कनाडा भेजने के नाम पर कुल 13,47,670 /- रुपये ठगने के आरोप पर दर्ज की गई है, इस मामले में आरोपियों पर आईपीसी की धारा 406, 420, 120-B और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल (रेगुलेशंस) एक्ट एफआईआर 2014 की धारा 13 के तहत दर्ज किया गया है।

एफआईआर–0116, दिनांक- 23/09/2022, पुलिस स्टेशन– नवी बारादरी, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।

यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर- 754-डीसीपी, दिनांक- 22/03/2022 के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता कुशल पुत्र श्री कमल किशोर ने इंटरनेशनल वीसा एजुकेशन्स सर्विसेज (IVES) फर्स्ट फ्लोर, 193 संजय गाँधी मार्किट, नजदीक बीएमसी चौक, जालंधर के दोनों मालिकों विनीत बेरी और मोना शर्मा द्वारा शिकायतकर्ता को कनाडा भेजने के नाम पर कुल,-11,22,000/-रुपये ठगने के आरोप पर दर्ज की गई है, इस मामले में आरोपियों पर आईपीसी की धारा 406, 420,120-बी और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल (रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है।

एफआईआर- 0118, दिनांक- 24/09/2022, पुलिस स्टेशन- नवी बारादरी, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।

यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर- 226-पीटीओओ (PTOO) दिनांक,15/03/2022 के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता हितेश भगत पुत्र श्री राजकुमार ने इंटरनेशनल वीसा एजुकेशन्स सर्विसेज (IVES ) फर्स्ट फ्लोर, 193 संजय गाँधी मार्किट, नजदीक बीएमसी चौक, जालंधर के दोनों मालिकों श्री विनीत बेरी और मोना शर्मा द्वारा शिकायतकर्ता को कनाडा भेजने के नाम पर कुल-20,05,000/- रुपये ठगने के आरोप पर दर्ज की गई है, इस मामले में आरोपियों पर आईपीसी की धारा 406, 420, 120-बी और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल(रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है, इस मामले में दिए गए ब्यान के मुताबिक श्री हितेश भगत का कहना है की वो इस कंपनी का यूट्यूब पर विज्ञापन देख कर गए थे।

एफआईआर: 0117, दिनांक: 24/09/2022, पुलिस स्टेशन: नवी बारादरी, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।
यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर- 1011-डीसीपी, दिनांक- 02/04/2022 के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता गगनदीप सिंह पुत्र सरबजीत सिंह और पलक पुत्री मंजीत सिंह ने आरोप लगाया की एरो केन ग्लोबल एजुकेशन्स एंड इमीग्रेशन, फर्स्ट फ्लोर वसल मॉल, सामने होटल प्रेजिडेंट जालंधर में इस कंपनी के कर्मचारी सविता और राजबीर से पोलैंड जाने के लिए डील किया था जिसके बदले कंपनी ने 4,05,000/-रुपये लिए और बाद में न तो पैसे वापिस दिए और नहीं उन्हें पोलैंड भेजा, इस मामले में कंपनी के मालिक पर मामला न दर्ज करते हुए कंपनी की कर्मचारी सविता पर मामला दर्ज किया गया है, इस बात की कोई सूचना नहीं है की सारे पैसे सविता ने खुद ही रख लिए या फिर कंपनी को जमा करवाए, अगर सविता कंपनी के दफ्तर में डील कर रही थी और कंपनी के लिए काम कर रही थी तो ऐसे में कंपनी के मालिक पर मामला दर्ज क्यों नहीं हुआ यह बात बहुत हैरान करने वाली है,इस मामले में आईपीसी की धारा 406, 420 और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल(रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है।

एफआईआर-0274, दिनांक 23 /09 /2022 , पुलिस स्टेशन रामा मंडी, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।

यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर-1079, दिनांक 07/04/2022 के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता अमृतपाल कौर पुत्री चरणजीत सिंह ने अपने ब्यान में लिखवाया है की सरबजीत कौर पत्नी शिवचरण सिंह, रहने वाली गुरदास पुर, हरपाल सिंह पुत्र आत्मा सिंह, रहने वाला गुरदासपुर और जसपाल सिंह ने उन्हें दुबई तकनीशियन की नौकरी दिलवाने का झांसा देकर -2,50,000/- रुपये की ठगी कर ली और बाद में न तो शिकायतकर्ता को दुबई भेजा गया और नहीं उन्हें पैसे वापिस दिए गए, इस मामले में जसपाल सिंह के खिलाफ जाँच में सबूत न मिलने के बाद सिर्फ सरबजीत कौर और हरपाल सिंह के खिलाफ ही मामला दर्ज किया गया है, इस मामले में आरोपियों पर आईपीसी की धारा 406,420,120-बी और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल (रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है।

एफआईआर-0146, दिनांक 23 /09 /2022 , पुलिस स्टेशन सदर जालंधर, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।

यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर-367-पेशी, दिनांक 07/05/2022 के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता अमृत सिंह पुत्र नरिंदर सिंह ने ट्रेवल एजेंट इंदरपाल सिंह भट्टी, रहने वाला गांव रामगढ तहसील फिल्लर, जिला जालंधर पर आरोप लगाया है की उक्त ट्रेवल एजेंट ने उसे कनाडा भेजने के नाम पर कुल 20,00000/- रुपये ठग लिए और शिकायतकर्ता को न तो कनाडा भेजा और न ही पैसे वापिस किए, इस मामले में पुलिस ने आईपीसी की धारा 406, 420 और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल (रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज की है फिर एफआईआर के कंटेंट के मुताबिक पुलिस का कहना है की ट्रेवल एजेंट इंदरपाल सिंह भट्टी पहले से ही एक अन्य ठगी के मामले में जेल में बंद है।

एफआईआर-0148, दिनांक -24 /09 /2022, पुलिस स्टेशन- सदर जालंधर , कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।

यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर-823-पीटीओओ,(PTOO) दिनांक-12/05/2020, 835- पीटीओओ (PTOO), दिनांक- 12/05/2020, 1945-पीटीएम दिनांक-20/06/2022 के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता विजय पुत्र वज़ीर मसीह ने अपने बयानों में आरोप लगाया है की जालंधर कैंट के पास पड़ते गांव धीना की रहने वाली शीना पत्नी विशाल, शीना की बहन टीना पत्नी कुख्तियार अलियास सोनू ने एक अन्य व्यक्ति शिव के साथ मिलकर शिकायतकर्ता की पत्नी को दुबई में अच्छी तनख्वा पर नौकरी दिलवाने का झांसा देकर 1,40,000/- रुपये लेकर शिकायतकर्ता की पत्नी को दुबई न भेजकर मस्कट भेज दिया जहाँ उनकी पत्नी को बहुत ही कम तनख्वा पर बहुत ज्यादा काम करवाया जा रहा है, लिहाजा शिकायतकर्ता ने पुलिस से गुहार लगाई है की उनकी पत्नी को वापिस भारत लाया जाए और उनके पैसे वापिस दिलवाकर ट्रेवल एजेंटों के खिलाफ करवाई की जाए, इस मामले में आरोपियों पर आईपीसी की धारा 370, 406, 420, 120-बी और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल (रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है।

एफआईआर-0182, दिनांक- 23 /09 /2022, पुलिस स्टेशन बस्ती बावा खेल, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।

यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर -721-पीटीओओ (PTOO) दिनांक- 06 /05 /2022, के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता बलविंदर कुमार पुत्र दर्शन कुमार ने अपने बयानों में आरोप लगाया है की परमजीत कौर पत्नी श्री गुरप्रीत सिंह, रहने वाली गांव बरियार, बेगोवाल, जिला कपूरथला ने उन्हें दुबई में ड्राइवर की नौकरी दिलवाने के नाम पर 1,62,000/- रुपये हड़प लिए और न तो उन्हें दुबई भेजा और न ही उनके पैसे वापिस किए, दुबई जाने के लिए शिकायतकर्ता ने पैसे उधार पर उठाए थे जिसे वो अभी तक भर रहा है इस मामले में पुलिस ने आरोपियों पर आईपीसी की धारा 406, 420 और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल(रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज की है
एफआईआर-0118, दिनांक- 23 /09 /2022, पुलिस स्टेशन डिवीजन नबर- 4, कमिश्नरेट पुलिस जालंधर।
यह एफआईआर लिखती कंप्लेंट नंबर : 24-डीसीपी, दिनांक- 11 /05 /2022, के आधार पर दर्ज की गई है इस मामले में शिकायतकर्ता उपदेश पल पुत्र जगदीश चंद ने अपने बयानों में आरोप लगाया की ट्रेवल एजेंट सुरिंदर पल अलियास घग्गी, अलियास पट्टी पुत्र गियान चंद, रहने वाला फिल्लौर और राज कुमार अलियास ठाकुर पुत्र संग्राम सिंह, रहने वाला होशियारपुर ने शिकायतकर्ता के परिवार से जुड़े 7 लोगों जिनमे बच्चे भी शामिल हैं को पुर्तगाल भेजने के लिए अलग अलग तरीखों पर कुल 58 लाख रुपये ले लिए और उनके परिवार के लोगों को सर्बिया के जंगलों में छोड़ दिया जहाँ इन सभी की जान खतरे में फंसी हुई है, शिकायतकर्ता के मुताबिक कुछ पैसे ट्रेवल एजेंटों ने उन्हें वापिस दिए है पर अभी तक सुरिंदर पल से 26 लाख रुपये लेने बाकी हैं और राज कुमार अलियास ठाकुर से कुल 25 लाख रुपये लेने बाकी है, शिकायतकर्ता ने गुहार लगाते हुए कहा है की उनके परिवार के सभी लोगों को जल्द से जल्द भारत वापिस लाया जाए और उनके पैसे ट्रेवल एजेंटों से वापिस दिलवाए जाए और इन ट्रेवल एजेंटो पर सख्त करवाई की जाए, एफआईआर के कंटेंट के मुताबिक पुलिस का कहना है की एक अन्य मामले में सुरिंदर पाल पहले से ही जेल में बंद है और राज कुमार अलियास ठाकुर फरार चल रहा है, इस मामले में पुलिस ने आरोपियों पर आईपीसी की धारा 406, 420, 120-बी और पंजाब ट्रेवल प्रोफेशनल(रेगुलेशंस) एक्ट 2014 की धारा 13 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है।

नोट–इस आर्टिकल में जो भी आंकड़े या दावे हैं सब पुलिस दवार दर्ज अलग अलग एफआईआर से लिए गए है, आर्टिकल में प्रकाशित एक्सेम्पलरी तस्वीरें इंटरनेट से ली गई है और इनका किसी भी तरह से कमर्शियल इस्तेमाल नहीं किया गया है।

Sidhi Galbaat
Sidhi Galbaat
Sidhi Galbaat
Sidhi Galbaat

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!