JalandharPunjab

यूनाईटेड हिन्दू फ्रंट के अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष का तुफानी पंजाब दौरा

हिन्दू मुख्यमंत्री बनाने के लिए राज्य भर में अलग-अलग बैठकें करेंगे
लुधियाना (ग्लोबल आजतक ब्यूरो)
पंजाब का अगला मुख्यमंत्री किसी हिन्दू को ही बनाने और आतंकवाद के दौरान निर्ममतापूर्वक मार डाले गए करीब 30000 हिन्दुओं के परिवारजनों को 1984 के सिख दंगा पीड़ितों की भांति मुआवजा देने की मांग को लेकर यूनाईटेड हिन्दू फ्रंट के अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष एवं राष्ट्रवादी शिवसेना अध्यक्ष जय भगवान गोयल पंजाब के तीन दिवसीय तुफानी दौरे पर हैं। गोयल 7 सितम्बर से 9 सितम्बर तक के अपने दौरे में पंजाब के अनेक नगरों एवं उपनगरों में विभिन्न लोगों के साथ बैठकें करेंगे जिसमें हिन्दू संगठनों के प्रतिनिधि, हिन्दू विधायक, पीड़ित हिन्दू परिवार शामिल हैं।

श्री गोयल ने आज मण्डी गोविन्दगढ़ और मोरिंडा में विभिन्न व्यापारियों से मुलाकात करके यूनाईटेड हिन्दू फ्रंट को पूर्ण सहयोग देने का आवाह्न किया। औद्योगिक नगरी मंडी गोविंदगढ़ में व्यापारियों के शिष्टमण्डल जिसमें फोकल प्वांयट ऐसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक गुप्ता, सचिव संजय सिंगला, कोषाध्यक्ष नरेश मित्तल, सुमित जैन और अजय सिंगला शामिल थे, ने फ्रंट की न्यायोचित मांगो के लिए पूरे समर्थन का आश्वासन दिया।
गोयल ने बताया कि उनका मंतव्य पंजाब के करीब 42 प्रतिशत हिन्दुओं को उनके अधिकरों के प्रति जागृत करना है। 1966 के बाद से आज तक किसी हिन्दू को किसी राजनीतिक दल ने मुख्यमंत्री पद नहीं दिया। हिन्दुओं के साथ पंजाब में दोयम दर्जे का व्यवहार किया जाता है।
रोपड जिला के मोरिण्डा शहर में सुधीर कक्कड़ जी के निवास स्थान यहाँ के प्रमुख बुद्धिजीवियों, व्यापारियों, हिन्दू नेताओं तथा आतंकवाद के दौरान मारे गए हिन्दूओं के परिवारजनों से मुलाकात की और पाया कि मोरिण्डा की अमर कौर पत्नी स्व. राजकुमार के तेरह वर्षीय पुत्र ललित कुमार की 15-9-1980 को आंतकवादियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी, को आज तक एक रूपया भी किसी प्रकार के मुआवजे के रूप् में नहीं मिला और वहीं दूसरी ओर मोरिण्डा के दुकान पर बैठे जवाहर लाल को भी आतंकवादियों ने 4-3-1991 को अपनी गोलियों का शिकार बनाया था के, दो पुत्रों को 25000/25000 हजार रूपये मात्र दे कर टरका दिया गया, वहीं दूसरी ओर 1984 दंगा पीड़ित सिख परिवारों को लाखों रूपये, फलैट, सरकारी नौकरियाँ भी सरकार द्वारा दी गई हैं। उनके संगठन इस भेदभाव को कतई बरदाश नहीं करेगा।
फ्रंट की स्पष्ट मांग है कि आतंकवाद पीड़ित व दंगा पीड़ित परिवारों को दिए जाने वाले मुआवजो में कोई भेदभाव नहीं होना चाहिए।
इस अवसर पर श्री गौरव वशिष्ट को मोरिण्डा शहर का अध्यक्ष घोषित किया गया।
इस अवसर पर सर्व श्री जगमोहन भारद्वाज, अनिल, मनीष अग्निहोत्री, नीरज शर्मा, जगदीश शर्मा, राधेश्याम, जवहर लाल, अमर पाल, रितू बाला, नरेन्द्र पण्डित, अजय कुमार शर्मा आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे, सभी ने एक स्वर से पंजाब का अगला मुख्यमत्री हिन्दू ही हो के लिए सक्रिय रूप से अपनी भागेदारी निभाने का संकल्प लिया।
श्री गोयल कल जालंधर और कपूरथला जिला के कई उप नगरों में भी बैठकें करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!