JalandharPunjab

वर्किंग जर्नलिस्ट्स ऑफ इंडिया 25 को मनाएगी डिजिटल मीडिया दिवस

वर्किंग जर्नलिस्ट्स ऑफ इंडिया, हरियाणा की विशेष बैठक, पदाधिकारियों को सौंपी गई जिम्मेदारी

वरिष्ठ पत्रकार दलबीर राठी को सोनीपत जिले के जिलाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी गई
सोनीपत, 04 अगस्त (ग्लोबल आजतक ब्यूरो)
वर्किंग जर्नलिस्ट्स ऑफ इंडिया संबद्ध भारतीय मजदूर संघ की हरियाणा ईकाई की एक बैठक बुधवार को सोनीपत में आयोजित की गई। संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार ने डिजिटल मीडिया के पत्रकारों को श्रमजीवी पत्रकार मान लिया है। डिजिटल मीडिया के पत्रकारों के मान-सम्मान को देखते हुए वर्किंग जर्नलिस्ट्स ऑफ इंडिया आगामी 25 अगस्त को डिजिटल मीडिया दिवस मनाएगी। नई दिल्ली में एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन डिजिटल मीडिया व रेडिया ब्राडकास्टिंग से जुड़े पत्रकारों को सम्मानित किया गया जाएगा। इस अवसर पर उन्होंने फरीदाबाद के वरिष्ठ पत्रकार अनिल राठी को हरियाणा इकाई का वरिष्ठ उपाध्क्ष नियुक्त किए जाने की घोषणा की। साथ उन्होंने वरिष्ठ पत्रकार दलबीर राष्ठी को सोनीपत जिले का जिलाध्यक्ष बनाए जाने की घोषणा की।

सोनीपत के राठधाना स्थित सुधीर होटल में आयोजित बैठक में उन्होंने बताया कि यूनियन की एक मीडिया गीत तैयार किया है। यह मीडिया गीत मुम्बई में बालीवुड के मशहूर गायक शान व अलका याग्निक ने गया है। इस गीत की भी लॉन्चिंग 25 अगस्त को होगी। डिजिटल मीडिया दिवस पर होने वाले समारोह में पत्रकारिता के क्षेत्र में लोहा मनवाने वाले पत्रकारों को सम्मानित भी किया जाएगा। अनूप चौधरी ने कहा कि यूनियन पत्रकारों के हितों की रक्षा सुनिश्चित करने के लिए कृत संकल्प है। इसके लिए सडक़ों पर उतरना पड़े तो इससे भी गुरेज नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना की चपेट में आने से कई पत्रकार अपनी जिंदगी गंवा चुके हैं। ऐसी स्थिति में केंद्र व राज्य सरकारों को उनके परिवार की हर संभव मदद करनी चाहिए।

राष्ट्रीय महासचिव नरेंद्र भडारी ने कहा कि डिजिटल मीडिया के पत्रकारों को सावधानी बरतने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि दिल्ली एनसीआर के पत्रकारों की डिजिटल डायरेक्टरी तैयार की जा रही है। इसी तर्ज पर हरियाणा में भी पत्रकारों की डिजिटल डयरेक्टरी बनाने की बात भी कही। इस अवसर पर उन्होंने सरकार से मांग किया कि मीडिया से जीएसटी को फौरन हटाया जाए। इसकी वजह से कोरोना काल में कई छोटे अखबार बंद हो चुके हैं। बड़ी संख्या में पत्रकार बेरोजगार हो चुके हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि ई-पेपर को मान्यता दिए जाने की मांग को लेकर भी युनियन अपनी आवाज बुलंद करेगी।
राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय उपाध्याय ने कहा कि आजादी के ७५ साल बाद भी मीडिया सबसे असंगठित क्षेत्र है। आज पत्रकार संगठन भी असंगठित है। इस कारण श्रमजीवी पत्रकारों की मांगों को पुरजोर तरीके से नहीं उठाया जाता रहा है। लेकिन पिछले कुछ वर्षों में वर्किंग जर्नलिस्ट्स ऑफ इंडिया ने लोकतंत्र के चौथे स्तंभ की मजबूती के लिए जमकर संघर्ष किया गया। इसी के बदौलत आज डिजिटल मीडिया मीडिया कर्मियों को भी सरकार ने पत्रकार मान लिया है। उन्होंने कहा कि यूनियन इस बात को लेकर लगातार सरकार पर दबाव बना रही है कि तमाम तरह की सरकारी सुविधाओं का लाभ डिजिटल मीडिया कर्मियों तक भी पहुंचे।
प्रदेश अध्यक्ष योगेश सूद ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की और कहा कि सरकार द्वारा पत्रकारों के लिए जारी पेंशन पालिसी में सुधर की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों की पेंशन पालिसी की आयु सीमा सरकार को 55 वर्ष करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यही नहीं सरकार को पत्रकारों के लिए जारी एक्रीडेशन पालिसी में भी काफी सुधार की जरूरत है। सरकार को इसे और लचीला बनाना चाहिए।
कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष विकास सुखीजा ने कहा कि पत्रकारों के लिए स्वास्थ्य बीमा तथा अन्य सुविधा जैसे पेंशन स्कीम, आदि सुविध मुहैया कराने पर वर्किंग जर्नलिस्ट्स ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनूप चौधरी, उपाध्यक्ष संजय उपाध्याय और महासचिव नरेंद्र भंडारी ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर खट्टर का धन्यवाद ज्ञापित किया था।
इस अवसर पर प्रदेश महासचिव संजीव कौशिक, वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, प्रदेश उपाध्यक्ष संजय सिंगला, प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक गुप्ता, कोषाध्यक्ष सुनील छिकारा, मुख्य सलाहकार संजय मिश्रा, राजकुमार भाटिया प्रदेश सचिव, कविता शर्मा, सचिव कुलदीप सिंह सेहरावत, मनोज जांगड़ा, रविंदर गौतम, संजीव घनगस, विशाल गुप्ता, वकील जैन व सुशील जैन, गोहाना से राजेंद्र कुमार, अरुण कुमार, अशोक शर्मा, सोमबीर, आदि दर्जनों पत्रकार बंधू मौजूद रहे। वहीं जिलाध्यक्ष दलबीर राठी ने अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन किया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!